Give your Comment

CurrentGK -> General Knowledge -> India History -> प्रागेतिहासिक काल -Prehistory Period

If you find this context important and usefull. We request to all visitors to sheare this with your friends on social networking channels.

प्रागेतिहासिक काल -Prehistory Period

प्रागेतिहासिक काल -Prehistory Period


  1.  प्रागेतिहासिक काल
  • जिस काल में मनुष्‍य ने घटनाओं का कोई लिखित विवरण उद्धृत नहीं किया, उसे ‘प्रागैतिहासिक काल’ कहते है । मानव विकास के उस काल को इतिहास कहा जाता है, जिसका विवरण लिखित रूप में उपलब्‍ध है।
  • ‘आद्य ऐतिहासिक काल’ उस काल को कहते हैं, जिस काल में लेखनकला के प्रचलन के बाद उपदब्‍ध लेख पढ़े नहीं जा सके हैं।
  • ज्ञानी मानव’ (होमो सैपियस) का प्रवेश इस धरती पर आज से लगभग तीस या चालीस हजार वर्ष पूर्व हुआ।
  • ’पूर्व-पाषाण युग’ के मानव की जीविका का मुख्‍य आधार था – शिकार।
  • आग का आविष्‍कार पुरा-पाषाणकाल में एवं पहिए का नव-पाषाणकाल में हुआ।
  • मनुष्‍य में स्‍थायी निवास की प्रवृति नव-पाषाणकाल में हुई तथा उसने सबसे पहले कुत्‍ता को पालतु बनाया।
  • मनुष्‍य ने सर्वप्रथम तॉंबा धातु का प्रयोग किया तथा उसके द्वारा बनाया जाने वाला प्रथम औजार कुल्‍हाड़ी (प्राप्ति स्‍थल- अतिरम्‍पक्‍कम) था।
  • कृषि का आविष्‍कार नव पाषाणकाल में हुआ। प्रागैतिहासिक अन्‍न उत्‍पादक स्‍थल मेहरगढ़ पश्चिमी ब्‍लुचिस्‍तान में अवस्थित है। कृषि के लिए अपनाई गई सबसे प्राचीन फसल गेहूँ एवं जौ थी।
  • पल्‍लावरम् नामक स्‍थान पर प्रथम भारतीय पुरापाषण कलाकृति की खोज हुई थी।
  • भारत में पूर्व प्रस्‍तर युग के अधिकांश औजार स्‍फटिक (पत्‍थर) के बने थे ?
  • भारत का सबसे प्राचीन नगर मोहनजोदड़ो था, सिंधी भाषा में जिसका अर्थ है मृतकों का टीला





17 Nov, 2018, 23:07:36 PM